बड़ी खबर/कोरोना की विकट परिस्थितियों में सेवाएं देने वाले 147 कोरोना योद्धाओं को जनपद पौड़ी में शासन ने दिखाया बाहर का रास्ता

0
74

रिपोर्ट/मुकेश बछेती

पौड़ी(पहाड़ ख़बरसार)कोरोना काल में जनपद पौड़ी के विभिन्न अस्पतालों व कोविड-19 सेंटरों में अपनी सेवा देने वाले 147 कर्मचारियों को शासन के आदेश के बाद हटा दिया गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी पौड़ी प्रवीण कुमार ने बताया कि शासन के आदेशों के बाद कोरोना अवधि के बाद भी विभिन्न पदों पर जनपद पौड़ी में 147 कर्मचारियों को आउटसोर्सिंग एजेंसी के माध्यम से नियुक्ति दी गई थी। उन्होंने बताया कि सितंबर माह में शासन द्वारा इन कर्मचारियों को 15 मार्च तक सेवा देने के आदेश दिए थे।

उन्होंने कहा कि आज इन सभी 147 कर्मचारियों की सेवाएं शासन के आदेश के बाद समाप्त कर दी गई है।
उन्होंने बताया कि इन 147 पदों में से 91 पदों पर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को नियुक्ति दी गई थी, जबकि चार कर्मचारी ऑक्सीजन प्लांट पर नियुक्त किए गए थे जबकि 36 फार्मासिस्ट को कोरोना काल मे काम करने के बाद उनका सेवा विस्तार किया गया था साथ ही 16 डाटा एंट्री ऑपरेटर ने कोरोना की विकट परिस्थितियों में अपनी सेवाएं जनपद में दी थी। उन्होंने बताया कि राज्य स्तर पर समीक्षा की जाएगी कि इनमें से कितनों की आवश्यकता है। इसके बाद शासन स्तर पर उन्हें रखने का निर्णय लिया जाएगा। आपको बताते चलें कि कोरोना काल की विकट परिस्थितियों में अपनी जान की परवाह किए बिना अपनी सेवाएं देने वाले कोरोना योद्धाओं को सरकार ने 2022 सितंबर में 6 महीने का सेवा विस्तार दिया था। जिनका कार्यकाल 15 मार्च को समाप्त हो गया है।

सबसे बड़ी बात यह है कि बीते इन 6 महीने में जनपद पौड़ी के विभिन्न अस्पतालों व सेंटरों में काम करने वाले सभी 147 कर्मचारियों में से किसी को भी पिछले 6 माह से वेतन नहीं मिल पाया है। अब देखना होगा निस्वार्थ भाव से अपनी सेवाएं देने वाले ये कर्मचारी आने वाले समय में क्या कदम उठाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here