ब्रेकिंग//पाबौ के मुल्ठा में मवेशियों को भी नही मिल पा रहा पानी,ग्रामीण परेशान

0
73

रिपोर्ट/मुकेश बछेती

पाबौ//गर्मी का सितम अपने चरम पर है तो सूरज लगातार आग उगलता दिखाई पड़ रहा है इस बीच बूंद बूंद पानी के लिए विकासखंड पाबौ के आधा दर्जन से अधिक गांवों को पेयजल आपूर्ति के लिए लंबी-लंबी दूरी तय करनी पड़ रही है विकासखंड के अंतर्गत आने वाले मुल्ठा,मडीधार पाबौ, पाबौ गांव,बिशल्ड,कोटा,कोटली सिमखेत गांव भीषण गर्मी में पानी की समस्या से जूझ रहे हैं बीते चार दिनों से इन गांव में पेयजल आपूर्ति ठप है जिसके कारण ग्रामीणों को पेयजल आपूर्ति के लिए पानी के स्रोतों पर निर्भर होना पड़ रहा है जिस तरह से गर्मी मैदानी इलाकों से लेकर पहाड़ी इलाकों में सितम ढाह रही है तो इस भीषण गर्मी के बीच पानी की समस्या से भी ग्रामीण इलाकों में लोगों को जूझना पड़ रहा है ग्रामीण महिला मोनिका व विमला देवी ने कहा बताया कि बीते 4 दिनों से उनके नलों में एक बूंद पानी की नहीं टपकी है जिसके कारण भीषण गर्मी में ग्रामीणों को पानी के स्रोतों से जल आपूर्ति करनी पड़ रही है।

मुल्ठा निवासी मोनिका ने बताया की खुद के लिए तो वे स्रोतों से जल की आपूर्ति कर रहे हैं मगर अब मवेशियों के लिए उन्हें पानी के लिए भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि जलापूर्ति ना होने की कारण मवेशियों को भी इस समस्या से दोचार होना पड़ रहा है उन्होंने पिलाने के लिए अत्यधिक जल की आवश्यकता पड़ती है जिसके आपूर्ति करना इन दोनों ग्रामीणों को भारी पड़ रहा है।

पाबौ जल संस्थान के कनिष्क अभियंता प्रकाश सिंह नेगी ने बताया की जगह-जगह पेजल लाइन टूटी हुई है जिसको जोड़ने व वेल्डिंग करवाने का काम लगातार किया जा रहा है उन्होंने बताया है कि 24 घंटे के भीतर पेयजल आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here