*सदन में उठी पुरानी पेंशन बहाली की आवाज, कार्मिकों ने किया आभार व्यक्त -बी पी सिंह रावत*

0
127

रिपोर्ट/मुकेश बछेती

देहरादून(पहाड़ ख़बरसार)उत्तराखंड विधान सभा सत्र में पुरानी पेंशन बहाली की आवाज उठाने पर कार्मिकों ने विधायक भुवन कापड़ी जी और विधायक मनोज तिवारी जी का आभार व्यक्त किया है राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने कहा है कि 13 मार्च को उत्तराखंड विधान सभा घेराव कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्रदेश के एनपीएस कार्मिक शिक्षक जंगलचट्टी बैरिकेट तक पहुंच गए थे जहां पर एनपीएस कार्मिक और पुलिस कर्मियों के साथ तीखी नोक झोंक हुई जिसमे कई महिला एनपीएस कार्मिकों को चोटे आई थी जिनमे मंजू पुरोहित लक्ष्मी नेगी रेखा बिस्ट रश्मि गौड विधान सभा घेराव में घायल हो गई थी प्रदेश प्रभारी विक्रम सिंह रावत बेहोश हो गए थे राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने कहा है कि सड़क पर कार्मिकों की आवाज बुलन्द होकर सदन तक पहुंच जाना ये एनपीएस कार्मिकों का संघर्ष है बी पी सिंह रावत ने कहा है कि राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा लगातार हर दिन पुरानी पेंशन बहाली के लिए संघर्ष कर रहा सदन में पुरानी पेंशन बहाली की आवाज उठाना ये सभी एनपीएस कार्मिकों के लिए हर्ष की बात है भुवन कापड़ी जी ने स्पष्ट शब्दों में कहा है एक हजार रूपए में कैसे घर चलेगा एक तरफ बुढ़ापे में शरीर काम नहीं करता दूसरी तरफ जेब में पैसा नही तो कैसे गुजारा चलेगा इसके लिए सभी एनपीएस कार्मिकों ने दोनो विधायक गणों का आभार व्यक्त किया है बी पी सिंह रावत ने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी से बजट सत्र में पुरानी पेंशन बहाली का निर्णय की उम्मीद थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिससे प्रदेश एक लाख एनपीएस कार्मिकों ने नाराजगी है आने वाले लोक सभा चुनाव में निर्णायक भूमिका के लिए सभी एनपीएस कार्मिक तैयारी कर रहे है राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने कहा है कि अब उत्तराखंड विधान सभा घेराव के बाद 1 मई 2023 को दिल्ली संसद मार्च कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा इसके लिए उत्तराखंड के सभी एनपीएस कार्मिकों ने विशेष तैयारिया तेज कर दी है दिल्ली पुरानी पेंशन बहाली मांग के लिए देश के 75 लाख एनपीएस कार्मिक अब आर पार के लिए तैयार है बी पी सिंह रावत ने कहा है कि महाराष्ट्र के 18 लाख कार्मिक 14 मार्च से हड़ताल पर राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा ने हड़ताल का पूर्ण समर्थन किया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here