लोक सभा चुनाव में रहेगा देश का सबसे बड़ा मुद्दा पुरानी पेंशन बहाली का -बी पी सिंह रावत

0
28

रिपोर्ट/मुकेश बछेती

देहरादून(पहाड़ ख़बरसार)राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने आज देहरादून में कांग्रेस पार्टी के प्रदेश प्रभारी शैलजा कुमारी से वार्ता करते हुए कहा है कि लोक सभा चुनाव 2024 के चुनावी घोषणा पत्र में पुरानी पेंशन बहाली मांग को प्रमुखता रखा जाए ।
राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने कहा है कि लोक सभा चुनाव में देश के 85 लाख एनपीएस कार्मिक अब करारा जवाब देने के लिए तैयार है बी पी सिंह रावत ने कहा है कि उत्तराखंड राज्य कार्मिक राज्य है उत्तराखंड राज्य का आजीविका का मुख्य साधन सरकारी कर्मचारी है उत्तराखंड राज्य में गुजरात राज्य की तरह उद्योग स्थापित नही है यहां रोजगार के रूप में सिर्फ सरकारी नौकरी है और उत्तराखंड सरकार पुरानी पेंशन बहाली मांग के लिए सदैव गंभीर नहीं रहती है धामी सरकार से पुरानी पेंशन बहाली मांग के विषय में बात करते है तो धामी जी केंद्र सरकार की तरफ इशारा करते हुए पल्ला झाड़ देते है जबकि उत्तराखंड राज्य में यूसीसी कानून व्यवस्था की इतनी जल्दी बाजी दिखाई धामी सरकार ने जिसकी उत्तराखंड राज्य में इतनी जरूरत थी नही बी पी सिंह रावत ने कहा है कि धामी सरकार जब यूसीसी कानून व्यवस्था लागू कर सकती है तो पुरानी पेंशन क्यों नही ।
राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने कहा है कि मोदी सरकार ने देश के 85 लाख एनपीएस कार्मिकों की पुरानी पेंशन बहाली को नजरंदाज किया है इसका खामियाजा लोक सभा चुनाव में भुगतना होगा ।
आज शैलजा कुमारी के साथ वार्ता में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि हमारी सरकार आयेगी तो सबसे पहले पुरानी पेंशन बहाली का निर्णय होगा ।
बी पी सिंह रावत ने कहा है कि देश के शिक्षक अधिकारी कर्मचारी डाक्टर नर्स इंजीनियर पुलिस कर्मी रेलवे कर्मी बैंक कर्मी सफाई कर्मी सभी एकजुट होकर पुरानी पेंशन बहाली मांग के लिए जन जागरण कार्यक्रम पूरे देश में शुरू करेगे जिससे देश की जनता को पुरानी पेंशन बहाली मांग से जोड़ा जाएगा । इस दौरान प्रदेश महासचिव सीताराम पोखरियाल, प्रदेश प्रभारी विक्रम सिंह रावत, देहरादून अध्यक्ष मक्खन लाल शाह, नवानी, केदार सिंह आदि उपस्थित थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here